सोमवार, 31 जनवरी 2011

शोर



क्या करेगा प्यार वो ईमान को ,
              क्या करेगा प्यार वो भगवान को !
जन्म लेकर गोद मै इन्सान की ,
             कर न पाया प्यार जो भगवान को !

3 टिप्‍पणियां:

ज्ञानचंद मर्मज्ञ ने कहा…

Waah,waah,
Kya baat kahi hai aapne.
Muktak man ko cho gaya.
Subhkamnaayen.

Kailash C Sharma ने कहा…

एक मुक्तक में इतना गहन दर्शन भर दिया..बहुत मर्मस्पर्शी और सुन्दर

Sunil Kumar ने कहा…

बहुत सुन्दर.......